शैक्षिक कार्यक्रम

संकाय – विज्ञान

विज्ञान संकाय के तीन प्रभाग हैं जिनमें कई विभाग एवं केन्द्र हैं जिनमें सम्मिलित हैं – जैवरासायनिकी, सूक्ष्मजैविकी तथा कोशिका जैविकी, आण्विक जैवभौतिकी, अकार्बनिक एवं भौतिकीय रासायनिकी, कार्बनिक रासायनिकी, घनअवस्था तथा संरचनात्मक रासायनिकी, गणित एवं भौतिकी – साथ में खगौलिकी, खगोलभौतिकी, पारिस्थितिकीय विज्ञान तथा उच्च ऊर्जा भौतिकी के अध्ययन के लिए विशेष केन्द्र हैं । उपरोक्त विभागों में अनुसंधान द्वारा पीएच.डी तथा एम.एससी (अभियोंत्रिकी) प्रदान की जाती हैं ।

संस्थान की पीएच.डी उपाधि के लिए शोध करनेवाले जैविकीय, रासायनिक एवं भौतिक विज्ञान जैसे क्षेत्रों में उन्नत अनुसंधान तथा तीक्ष्ण बुद्धिवाले प्रतिभासंपन्न बी.एससी स्नातकों के लिए समेकित पीएच.डी (इंटीग्रेटेड पीएच.डी) कार्यक्रम है ।

परिसर में अनुसंधान में संलग्न छात्रों की संख्या सबसे अधिक (50%) है । संस्थान प्रति वर्ष लगभग 200 पीएच.डी तथा एम.एससी (अभि) उपाधियाँ प्रदान करता है जो भारत में किसी भी संस्था से अधिक है । लगभग 250 छात्र प्रति वर्ष विभिन्न अनुसंधान कार्यक्रमों के लिए नामांकित किए जाते हैं ।

संस्थान के अनुसंधान में कार्यक्रमों में प्रवेश पूर्व पठित कार्यक्रमों में अभ्यर्थी की दक्षता (मूलतः विभिन्न परीक्षाओं में प्राप्तांक) तथा परिसर साक्षात्कार के आधार पर दिया जाता है । संस्थान की प्रवेश परीक्षा या अन्य किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान की परीक्षा के आधार पर अभ्यर्थियों को साक्षात्कार के लिये बुलाया जाता है ।

इस अनुभाग में