शैक्षिक

प्रभाग – विद्युतीय

विद्युत विज्ञान प्रभाग – संस्थान के प्रारंभ के वर्षों से ही संस्थान के कार्यकलापों के सूत्रपात का प्रतिनिधित्व करता आया है । यह कार्यकलाप एक मात्र विभाग के साथ वर्ष 1911 में विद्युत प्रौद्योगिकी विभाग से प्रारंभ हुआ था तथा अब चार विभागों तथा एक केन्द्र तक विस्तारित हुआ है । अनेकों वर्षों तक, यही एक मात्र संस्थान था, जो इस क्षेत्र में उन्नत शिक्षा तथा अनुसंधान सुविधाएँ उपलब्ध कराता था । इस प्रभाग ने अनुसंधान के विस्तृत क्षेत्रों के साथ ही स्नातकोत्तर शिक्षा में अपने नेतृत्व को बनाये रखा है । इस प्रभाग में 500 से अधिक छात्र हैं जो स्नातकोत्तर (मास्टर्स) तथा पीएच. डी. उपाधियों के लिये कार्यरत हैं तथा यहाँ पर लगभग 100 संकाय सदस्य हैं जो अनुसंधान एवं अध्ययन कार्यकलापों में कार्यरत हैं ।

यह प्रभाग व्यापक रूप से, संगणना-विज्ञान तथा अभियांक्षिकी, विद्युत अभियांत्रिकी, संचार-अभियांत्रिकी, तथा विद्युन्मानिकी से संबद्ध है । रुचि के क्षेत्रों में सम्मिलित हैं – संगणना प्रणाली तथा सॉफ्टवेयर, आसूचना प्रणाली, सैद्धांतिक संगणक-संचार, संकेत-प्रक्रियन, जैव-अभियांत्रिकी, सूक्ष्म विद्युन्मानिकी, विद्युत प्रणाली, विद्युत – विद्युन्मानिकी (पॉवर-इलेक्ट्रॉनिक्स), विद्युतीय विभंग अध्ययन, प्रकाश फेनोमेना / परिघटना, फोटो-वोल्टानिक्स, विद्युन्मानीय उपकरणों का पैकेजिंग (आवेष्ठन) तथा उत्पादन, विद्युत-चुंबकीय अनुरूपता, औद्योगिक अभिकल्प ।

यह प्रभाग, अनेकों ऐसे अभिकरणों की रुचि के प्रति, अपने प्रायोजित अनुसंधान प्रायोजनाओं का संचालन करता है – जैसे – डीएसटी, डीओई, एमएचआरडी, डीआरडीओ, इनमें से कुछ और निम्न प्रकार हैं : -

• प्रतिबिंब प्रक्रियन तथा लक्षण निकर्षण
• सूक्ष्म संसाधक आधारित अरिथमिया प्रणाली
• दृष्टिपटलीय तंत्रिका जालकार्य (रेटिनल न्यूरलनेटवर्क)
• सागरों में प्रतिबिंबन हेतु विवर्तन रेडियो क्षेत्रदर्शिनी
• संगणना जालकार्य में शिक्षा एवं अनुसंधान
• निरंतर भाषण में संकेत शब्द चिह्नित करना
• संगणक सहायित त्वरित आदिप्रारूपण
• स्वचालित विनिर्माण प्रणाली की विश्वसनियता
• प्रदीपन – वायुयान अंतर्क्रिया का मूल्य निर्धारण

प्रभाग का निकट संपर्क उद्योग के साथ है तथा ऐसे अभिकल्प एवं विकास में कार्यरत है जो विद्युत (शक्ति) प्रणाली तथा उपयोगिता संचार, संगणना सॉफ्टवेयर तथा इलेक्ट्रॉनिक्स उद्योग की रुचि रखता है । इन सभी क्षेत्रों में परामर्शी प्रायोजनाएँ प्रगति पर हैं । अनेकों क्षेत्रों में अन्वेषणों के लिये प्रभाग में प्रयोगालयी सुविधाएँ उपलब्ध हैं । उनमें से कुछ निम्नलिखित हैं :

• संगणना नियंत्रित बहु यंत्रीय विद्युत-शक्ति-प्रणाली
• अंतर्क्रियात्मक अंकात्मक प्रविबिंब प्रक्रियन
• अनुकूल संकेतन प्रक्रियन
• भाषण प्रक्रियन
• संगणना दृष्टकोण तथा कृत्रिम बुद्धिमत्ता
• पतली एवं मोटी फ़िल्म संकर परिचय
• संगणना संचार जालकार्य
• समेकित प्रकाशिकी
• मुद्रित परिपथ फलक
• विद्युत चुंबकीय व्यतिकरण
• उच्च ओल्टता अभियांत्रिकी

इस अनुभाग में